What is the color code of straight and crossover cable?

दोस्तों आप अगर IT field / Desktop Support / Networking  में Job कर रहें है या करने की सोच रहे है तो आपको LAN cable की crimping को सीखना पड़ेगा . यह networking का basic है, इसकी जानकारी हर एक network engineer को अवस्य होती है . दोस्तों आज हम इस post में LAN cable को crimp कैसे करें ,यह सीखेंगे . दोस्तों LAN cable को दो types से crimp किया जाता है . एक straight cable तो दूसरा Cross cable . straight cable और cross cable एक दुसरे से बिलकुल अलग होते हैं , और दोनों का use भी अलग – अलग devices को connect करने के लिए होता है . Straight cable और Cross cable को बनाने के दो standard है , 568A & 568B. आप कोई भी एक तरीका अपना सकते हैं .

 

कोई भी cable बनाते समय RJ45 connector की जरुरत होती है और उनकी numbering इस तरह से होती कि RJ45 अपने हाथ में पकडे तो connector का लॉक निचे की तरफ हो और numbering left to right करते हैं .

Straight Cable : – Straight Cable का use Different types की Device को connect करने के लिए होता है जैसे –

  • Computer to Switch
  • Computer to Hub
  • Router to Switch or Hub

दोस्तों आपको बताना चाहूँगा की जब कोई straight cable दो device को connect होता है तो उनके बीच communication किस तरह से होता है .

  • Device 1 – Transmit on pins 1 and 2 | Receive on Pins 3 and 6
  • Device 2 – Receive on Pins 1 and 2 | Transmit on Pins 3 and 6

Straight Cable Crimping Method

This image has an empty alt attribute; its file name is Straight-Cross-Cable-228x300.jpg

568 B Straight Cable Method 

  1. White/Orange
  2. Orange
  3. White/Green
  4. Blue
  5. White/Blue
  6. Green
  7. White/Brown
  8. Brown

 

नोट :- ज्यदातर straight cables को 568B method से crimp किया जाता है .

 

 

Cross cable :-  cross cable का Use same types की device को connect करने के लिए होता है जैसे –

  • Computer to Computer
  • Switch to Switch
  • Hub to hub
  • Router to Router

Cross Cable Crimping Method

Crimping LAN Cables crossover-cable


  • T568A and T568B are the two different color codes used for pairing cable.
  • T568B is mostly used one.
  • दोस्तों आज कल के नए device Auto-MDIX (Medium Dependant Interface Crossover) होते हैं . हो सकता है कि आप 2 switches को एक दुसरे से straight-केबल से कनेक्ट करे और वो कनेक्ट हो जाये क्योंकि वहां पर ‘Auto detect Mechanisms’ काम कर रहा होता है इसे Automdix कहते है |