What is Digital Marketing With Full Information ? Learn In Hindi

दुनिया में हर दिन लाखो करोडो लोग घर बैठे ही अपनी जरूरतों को ऑनलाइन तरीकों से पूरा कर लेते हैं। चाहे कपडे लेने हों , घर के खाने पिने का कोई सामान लेना हो या Mobile Phone  , Electronic Device/assets लेना , हर कुछ अब इंटरनेट पर बड़ी आसानी से मिल जाता है। अब लोग पहले की तरह दूकान – दूकान जाकर सामान खरीदना पसंद नहीं करते हैं। लोग अब ऑनलाइन जाकर सामान खरीदना ज्यादा पसंद कर रहे है। इससे लोगों का टाइम बच रहा है और आने जाने का खर्च भी , और भी कई फायदे हैं ऑनलाइन शॉपिंग का।

इसलिए तो आज जो लोग ऑफलाइन Business करते हैं , जैसे जूते – चप्पल बेचना , घर का खाने – पिने का सामान बेचना , टीवी , घडी बेचना आदि प्रकार का बिज़नेस करते है  , उनका दूकान बंद सा होते जा रहा है।  उनके कस्टमर धीरे – धीरे ऑनलाइन Shopping की तरफ जा रहे हैं।

दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं आप लोगों से Digital Marketing के बारे में बेसिक जानकारी साझा करूँगा। पूरा पोस्ट जरूर पढ़े। पोस्ट को पढ़ने से आपको डिजिटल मार्केटिंग क्या है , इसे क्यों करना चाहिए और कंहा करना चाहिए इन बातों की अच्छी खासी जानकारी प्राप्त हो जाएगी। तो मेरा यकीन मानिये और पोस्ट को लास्ट तक जरूर पढ़िए।

Digital Marketing क्या है ?

डिजिटल मार्केटिंग Computer अथवा Electronic Device और Internet का उपयोग करके की जाने वाली मार्केटिंग है।  जिसके जरिये कोई भी कंपनी अपने प्रोडक्ट को बहुत ही कम समय में , एवं बहुत ही कम खर्च में सही कस्टमर तक पंहुचा सकती है और ज्यादा से ज्यादा मुनाफा कमा सकती है। इसे ही Online Marketing भी कहते हैं।

इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस का उपयोग करके इंटरनेट के माध्यम से किया जाने वाला मार्केटिंग , डिजिटल मार्केटिंग कहलाता है।

जब कोई Company अपने बिज़नेस  या अपने किसी नए प्रोडक्ट को लांच करती है तो उसे ढेर सारे लोगों तक पहुंचाने के लिए मार्केटिंग करती है। मार्केटिंग का मतलब है, सही समय पर , सही जगह पर एवं सही कस्टमर से कनेक्ट होना। और आज के दौर में आपको अपने कस्टमर से ऐसे स्थान पर कनेक्ट करना होगा जंहा पर वे अपना सबसे ज्यादा समय गुजारते हैं।  जैसे इंटरनेट , सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इत्यादि।  आपको पता होगा की पहले लोग अपना ज्यादा समय बिताने के लिए किसी सिनेमा हॉल , पार्क में अक्सर आया जाया करते थे।  ऐसे में जब किसी कंपनी को अपने किसी प्रोडक्ट का मार्केटिंग करना होता था तो वह ऐसे स्थानों को ज्यादा चुनता था और बड़ी आसानी से उसका मार्कटिंग वाला कार्य हो जाता था।

लेकिन अब समय बदल चूका है , लोगों के पास अब समय बिताने के लिए कई विकल्प आ चुके हैं। लोग आज सोशल मीडिया पर ज्यादा से ज्यादा समय बिता रहे हैं। सिनेमाघर की जगह लोग अब YouTube या अन्य Web  channel को ज्यादा पसंद कर रहे हैं। भारत में लगभग हर तरह के लोग Internet का इस्तेमाल कर रहे हैं। चाहे वो अपने कंप्यूटर का उपयोग कर रहे हों या फिर मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन इंटरनेट का इस्तेमाल करने वालों की तादाद बढ़ती ही जा रही है। इसलिए अब हर छोटी – बड़ी कंपनियां अपने Product or Services का Advertisement / Marketing करने के लिए डिजिटल मार्केटिंग का सहारा ले रही हैं।

एक बात तो सच है कि, चाहे वह Online Marketing हो या Offline Marketing , दोनों का उदेस्य ज्यादा से ज्यादा लोगों को कनेक्ट करना होता है। ऑफलाइन मार्केटिंग की तरह किसी नुक्कड़ पर या बिल्डिंग पर बड़े – बड़े बैनर लगाना , पर्चे बनवाकर लोगों में बितरण करवाना या समाचार पत्रों में विज्ञापन देने से कंही ज्यादा सस्ता और अच्छा है ऑनलाइन मार्केटिंग करना। ऑनलाइन मार्केटिंग या डिजिटल मार्केटिंग से कम समय में , कम खर्च में एवं सही स्थान पर सही कस्टमर को कनेक्ट कर सकते हैं। ऑनलाइन मार्केटिंग से आप दुनियाभर के कस्टमर को कनेक्ट कर सकते हैं।

Digital Marketing क्यों जरूरी है ?

डिजिटल मार्केटिंग , डिजिटल तकनीकी द्वारा लोगों तक पहुंचने का सरल माध्यम है। जब स्मार्ट फ़ोन या Internet का फैलाव नहीं था , तब लोग समाचार पत्र , रेडियो या टीवी का इस्तेमाल ज्यादा किया करते थे और इन्ही स्थानों पर कंपनियां अपने प्रोडक्ट अथवा सर्विस का प्रचार – प्रसार करते थे और लोग इन्हीं विज्ञापनों को देखकर प्रोडक्ट को बाजार जाकर लेकर आते थे। लेकिन अब समय बदल चूका है , टीवी का स्थान अब YouTube or अन्य वेब चैनल ने ले लिया है , रेडियो के स्थान पर कई प्रकार के रेडियो ऐप आ चुके हैं और समाचार पत्र के स्थान पर लोग ऑनलाइन न्यूज़ पढ़ना या ब्लॉग पढ़ना ज्यादा पसंद कर रहे हैं। और इन सब का कारण है बजट। जी हाँ यह सब कम खर्च में बड़ी आसानी से उपलब्ध हो जाता है।

अब लोग अपना ज्यादा से ज्यादा वक्त Facebook , YouTube , Twitter , Instagram इत्यादि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर बिताते हैं और अब कंपनियां अपने प्रोडक्ट का advertisement भी ऐसे Online Platform पर ज्यादा कर रही हैं।  लोग यंही से प्रोडक्ट का विज्ञापन देखते हैं और ऑनलाइन जाकर शॉपिंग भी कर लेते हैं।

पहले जो लोग बाजार जाकर कपडे खरीदते थे अब वे लोग इंटरनेट पर ही शॉपिंग कर ले रहे हैं। कम समय में उनकी शॉपिंग हो जा रही है , और सबसे बड़ी बात कि उन्हें कंही जाने की जरुरत नहीं पड़ रही है। ऐसा नहीं है की Online Shopping / Internet Marketing से सिर्फ ग्राहक को ही फायदा हो रहा है अपितु छोटे – मोटे व्यापारी भी अपने उत्पादों को ऑनलाइन बेच कर पैसे कमा रहे हैं।

Digital Marketing कंहा और कैसे इस्तेमाल किये जाते हैं ?

दोस्तों अब जानेगें की डिजिटल मार्केटिंग का इस्तेमाल कैसे और कंहा पर हो रहा है।

Blogging :-

डिजिटल मार्केटिंग के अंतर्गत आने वाला सबसे बड़ा प्लेटफार्म जो है वह है Blogging . इसकी मदद से आप अपने ब्लॉग पर किसी प्रोडक्ट के बारे में बताकर और उसे लोगों से साझा करके बेच सकते हैं। अक्सर कंपनियां अपने ब्लॉग पर अपने प्रोडक्ट के बारे में लिखते रहते हैं और ब्लॉग पढ़ने वाले को बड़ी आसानी से प्रोडक्ट के जानकारी मिल जाती है।

Content Marketing :-

Content Marketing का मतलब किसी प्रोडक्ट या सर्विस के बारे में Content इकठ्ठा करना और लिखना। मान लीजिये कि आपको किसी मोबाइल में बारे में कुछ लिखना है। तो इसका मतलब यह नहीं कि कुछ भी लिख दिया जाए। आप को ऐसा लिखना होगा की आपके कंटेंट को जो भी पढ़े वह इम्प्रेस हो जाए।  मिला जुलाकर आपको Impressive Content लिखने होते हैं।

SEO :-

SEO का मलतब होता है Search Engine Optimization . आपका ब्लॉग या Webpage , Google के Search ranking में टॉप पर आये इसके लिए आपको SEO करना होता है।  SEO यह एक process है। इसमें अपने ब्लॉग को या वेबसाइट को SEO के मुताबिक बनाना एवं लिखना होता  है।

Social Media Marketing :-

Social Media Marketing यह एक बहुत ही अच्छा और बढियाँ Platform है ,अपने Product और Service को लोगों तक पहुंचाने के लिए।  आज Maximum लोग फेसबुक , इंस्टाग्राम , यूट्यूब या अन्य किसी न किसी Social Media Apps  से जुड़े हुए हैं।  ऐसे में यदि प्रोडक्ट या सर्विस की मार्केटिंग Social Media Apps पर की जाती है तो जाहिर है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों तक पंहुचा जा सकता है।

Google AdWords :-

Google AdWords यह Google द्वारा प्रोवाइड की जाने वाली सर्विस है। इसकी मदद से आप Google के अन्य प्लेटफार्म जैसे YouTube , Blogger , Google Search पर अपने Product की एडवरटाइजिंग कर सकते हैं।  यह एक तरह से पेड सर्विस होती है। इसके लिए Google आपसे पैसे चार्ज करता है।

Apps Marketing :-

आज कल App Marketing के ट्रेंड भी चल रहा है।  लोग अपने मोबाइल फ़ोन में Apps को इनस्टॉल करना ज्यादा पसंद करते हैं।  जैसी Facebook , Instagram , Twitter  , LinkedIn इत्यादि। अब जब आप ऐसे Apps को अपने मोबाइल में इनस्टॉल करते होंगे  तब आप देखते होंगे की ऐसे Apps पर advertise आते रहते हैं।  मतलब Apps पर भी Advertise कर के अपने Product और Service को लोगों तक पहुंचाया जा सकता है।

YouTube Channel Marketing :-

अगर आपका कंटेंट वीडियो में है तो आपके लिए YouTube एक अच्छा प्लेटफार्म साबित हो सकता है।  आज के दौर में लोग वीडियो देखने के लिए सबसे ज्यादा YouTube को ही पसंद करते हैं। यदि आप चाहे तो YouTube पर अपना खुद का Channel बनाकर अपने Product और Service के बारे में लोगों तक पंहुचा सकते हैं। और अगर ऐसा नहीं करना चाहते हैं तो भी आप अपने Product और Service को दूसरों तक पहुंचाने के लिए YouTube का सहारा ले सकते हैं। यंहा पर आपको AdWords की हेल्प लेनी होगी।

Email Marketing :-

दोस्तों अंत में Email Marketing का नंबर आता है।  ऐसा नहीं हैं कि इसका नंबर सबसे अंत में है , बस मैंने अपने आर्टिकल में इसे सबसे अंतिम में लिखा है।  बहुत से लोगों को Email द्वारा की जानेवाली मार्केटिंग ही ज्यादा फायदेमंद होती है। Email Marketing करते समय आपको अपने Client को Email लिखना होता है। आजकल लोग बल्क में ईमेल करना ज्यादा पसंद करते हैं। जैसे आपने देखा होगा की Flipkart या Amazon , HDFC , ICICI जैसी कंपनियां अपने नए प्रोडक्ट की जानकारी ईमेल के जरिये परस्पर भेजती रहती हैं।

 

दोस्तों आपको यह आर्टिकल कैसा लगा , हमे कमेंट्स के माध्यम से जरूर बताएं। अगर इस आर्टिकल से थोड़ी बहुत भी जानकारी आपको मिली हो तो इसे अपने दोस्तों में जरूर शेयर करें।

 

धन्यवाद !!

 

Leave a Comment

How to Join WhatsApp After BCA: A Comprehensive Guide Master C Language in 6 Months: 15 Hidden Facts That Will Amaze You!